Thursday, August 10, 2017

योजना बनाकर सस्ते में करें सैर सपाटा

पुडडुचेरी में सी क्रूज का सफर
बहुत से लोग पूछते हैं 10 दिन की यात्रा करके लौटे हो, काफी रुपया खर्च हो गया होगा। पर आप अगर यात्राओं की योजना थोड़ी तैयारी और समझदारी से बनाएं तो कम खर्चे में बेहतर ढंग से घूमा जा सकता है। तो आइए अपने अनुभवों के आधार पर इन तैयारियों पर बात करें।

ऑफ सीजन में करें यात्रा - सबसे पहले आता है गंतव्य का चयन। कोशिश करें कि आप लोकप्रिय पर्यटक स्थलों पर भीड़भाड़ वाले सीजन यानी पीक सीजन में न जाकर ऑफ पीक सीजन में जाएं। ऐसे वक्त में होटल सस्ते मिलेंगे। टैक्सी का किराया कम होगा। खाने-पीने वाले स्थलों पर भी भीड़ कम मिलेगी। महाबलेश्वर, माथेरन, दीव जैसे स्थलों पर हर शनिवार रविवार को होटल महंगे रहते हैं बाकी दिन सस्ते। शिरडी साईं बाबा और तिरुपति बालाजी के दरबार में गुरुवार को सर्वाधिक भीड़ रहती है। तो भगवान के दरबार में भी उन दिनों में जाएं जब भीड़ कम रहती हो।
  
किराये की एक्टिवा से सैर 
आप जहां भी जाना चाहते हैं वहां कितने दिन ठहरना है तय करने के बाद जाने और आने की टिकटें पर्याप्त समय पहले बना लें। वापसी की टिकट भी कनफर्म रहने पर आप तनाव मुक्त होकर घूम सकेंगे। कई बार आप कुछ माह पूर्व की योजना बनाएंगे तो हवाई टिकट रेल टिकट से भी सस्ता मिल सकता है। मुझे दिल्ली से बेंगलुरु का हवाई टिकट एक बार चार माह पहले बुक करने पर 2100 रुपये प्रति व्यक्ति मिल गया जो रेलवे से के एसी3 के बराबर था। हमारा दो दिन का समय भी बचा सो अलग। 

एसी के बजाए स्लिपर में यात्रा करें - अगर मौसम अच्छा है तो एसी के बजाए स्लिपर क्लास में सफर करें। अगर आप मुंबई से गोवा कोंकण रेल से जा रहे हैं या कहीं पहाडी क्षेत्र की यात्रा पर हैं तो स्लिपर क्लास में रेल की खिड़की से बेहतरीन नजारे दिखाई देंगे।
कुछ शहरों की यात्रा की योजना आप रात में चलने वाली ट्रेन में बना सकते हैं। आप अपने शहर से रात भर 12 घंटे का सफर करके नए शहर में पहुंच जाते हैं। ऐसी हालात में सार्वजनिक स्थलों पर तैयार होकर दिन भर घूम सकते हैं। ज्यादा सामान हो तो रेलवे स्टेशन या बस स्टैंड के क्लाक रुम में जमा करा दें। दिन भर घूमने के बाद रात को अगले शहर की यात्रा पर निकल जाएं। इस तरह आप होटल में रुकने का खर्च बचा सकते हैं। अगर कई दिनों की यात्रा का प्लान है तो बीच कुछ शहरों में आप ऐसा भी कर सकते हैं।

होटल पहले बुक कर लें – जिन शहरों में ठहरना हो वहां होटल पहले बुक कर लें तो आप आवास की तलाश में जाया होने वाला वक्त बचा सकते हैं। अलग अलग वेबसाइट्स के माध्यम से आजकल ऑनलाइन होटल बुक किया जा सकता है। मेरी प्राथमिकता में www.goibibo.com रहता है। इसके अलावा आप मेकमाईट्रिप, क्लियरट्रिप, यात्राडाटकाम, ट्रेवल गुरु, एक्सिपिडिया, होटल्सडाट काम आदि साइट पर जाकर पहले से ही होटल बुक कर सकते हैं। होटल बुक करते समय ध्यान रखें कि वह रेलवे स्टेशन बस स्टैंड या फिर प्रमुख दर्शनीय स्थलों के पास ही हो। अगर आपके पास अपना वाहन न हो तो दूर के होटल में ठहरना महंगा सौदा साबित हो जाता है, भले वह होटल सस्ते में बुक हुआ हो।  

पदयात्रा ज्यादा करें -  किसी भी शहर में स्थानीय तौर पर दर्शनीय स्थलों को देखने के लिए पैदल, साइकिल, बाइक,  तांगा, रिक्शा, आटोरिक्शा जैसे साधनों को प्राथमिकता दें। लोकल बसों की जहां अच्छी सुविधा हो उसका भी लाभ उठाएं। बसों का पैकेज टूर ले सकते हैं। वह भी सस्ता पड़ता है। दिल्ली, मुंबई के अलावा जयपुर, बेंगलुरु, द्वारका, उज्जैन, मैसूर , जैसे शहरों में बसों से पैकेज टूर संचालित होते हैं। इसमें आपको अलग अलग जगहों से आए लोगों का साथ भी मिलता है, साथ ही यह किफायती भी पड़ता है।

साइकिल और आटोरिक्शा से सैर - आप जोधपुर, जैसलमेर, हंपी जैसे शहरों में आटो रिक्शा करके किफायती दरों पर घूम सकते हैं। हंपी में तो 100 रुपये प्रतिदिन पर गियर वाली साइकिल किराये पर लेकर सारा दिन घूम सकते हैं। विदेशी सैलानी साइकिल से सफर करना खूब पसंद करते हैं।

बाइक रेंटल किफायती विकल्प -  आप गोवा, दीव, पुड्डुचेरी, असम के माजुली, खजुराहो समेत देश के तमाम शहरों में बाइक और स्कूटी किराये पर लेकर दिन भर भ्रमण कर सकते हैं। 250 से 450 रुपये प्रतिदिन की दर से बाइक किराये पर ली जा सकती है। शौकीन लोगों के लिए बुलेट और हर्ली डेविसन जैसी बाइक भी किराये पर मिल जाती है। इसमें आप दिन भर का यात्रा मार्ग थोड़ा रिसर्च करके पहले से ही तैयार कर लें तो सुविधा होगी। 
हंपी में किराये की साइकिल से सैर करें - 100 रुपये प्रतिदिन । 

अगर अकेले हैं तो गोवा जैसे शहर में बाइक टैक्सी का भी विकल्प मौजूद है। गुरुग्राम में भी बाइक टैक्सी सेवा आरंभ हो गई है। देश में कई प्रमुख बाइक और कार किराये पर देने वाली वेबसाइटें और मोबाइल एप्प आ चुके हैं। इनका लाभ उठा सकते हैं। कई शहरों में तो आपको शहर के बाहर दूर की यात्रा करने के लिए भी बाइक किराये पर मिल जाती है।  

बाइक रेंटल वेबसाइट - www.wheelstreet.com/    Tel. 8088400500 कई शहरों में बाइक रेंटल की सेवा देती है। इन्हें भी आजमाएं - गोवा समेत कई शहरों में आप इस साइट से बाइक किराए पर ले सकते हैं - http://www.ziphop.in/
इसके अलावा आप इन्हें भी आजमाएं - www.rentrip.in/  और www.wickedride.com के अलावा आप http://www.driveonrent.com/ जैसी वेबसाइट से भी बाइक रेंटल का लाभ उठा सकते हैं।


हंपी में नारियल पानी...
शाकाहारी भोजन लें - अक्सर सैर सपाटे में लोग खाने पीने में भी काफी रुपया खर्च कर देते हैं। यह कोई अक्लमंदी नहीं है। आप अगर मांसाहारी हैं तो भी सफर में शाकाहारी भोजन लें। आपका पेट भी ठीक रहेगा, रुपये भी कम खर्च होंगे। पर जहां जाएं वहां का स्थानीय भोजन अवश्य ग्रहण करें। अगर आप दक्षिण में डोसा, इडली, उत्पम, बिरयानी राजस्थान में दाल बाटी,  महाराष्ट्र में बड़ा पाव और बंगाल में चावल खाएं तो आपके जेब के अनुकूल रहेगा। पर अगर आप दक्षिण में जाकर पंजाबी फूड तलाश करें तो हो सकता है मिल जाए पर जेब का भारी पड़ेगा, इसलिए जैसा देस वैसा वेश....

 - विद्युत प्रकाश मौर्य - vidyutp@gmail.com

( लेखक पत्रकार हैं, देश के कोने-कोने में घूमना उनका शौक है ) 
 ( BIKE ON RENT, CYCLE ON RENT, CHEAP TRAVEL, VEG FOOD ) 

2 comments:

  1. आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन ’मिलिए देश की पहली महिला संगीतकार से आज की बुलेटिन में’ में शामिल किया गया है.... आपके सादर संज्ञान की प्रतीक्षा रहेगी..... आभार...

    ReplyDelete
  2. धन्यवाद, राजा जी

    ReplyDelete